स्टेट ऑफ़ सीज: 26/11 की के बाद, ज़ी5 ने की एक अन्य ऑरिजिनल फ़िल्म ‘स्टेट ऑफ सीज: अक्षरधाम’ की घोषणा

0
380

भारत के सबसे बड़े वीडियो स्ट्रीमिंग प्लेटफॉर्म ज़ी5 ने विभिन्न भाषाओं और शैलियों के साथ-साथ अर्थपूर्ण और उद्देश्यपूर्ण ऑरिजिनल कंटेंट पेश किया है। स्थापना के बाद से और लॉकडाउन में भी अपनी विरासत को जारी रखते हुए, ब्रांड ने विभिन्न प्रकार के कंटेंट के साथ दर्शकों का मनोरंजन किया है। ज़ी5 ने रंगबाज़, अभय, काली जैसे शो के साथ एक मजबूत फ्रैंचाइज़ी रणनीति भी बनाई है; जिनके दोनों सीजन को दर्शकों और आलोचकों द्वारा समान रूप से सरहाया गया है।

लॉकडाउन के दौरान, ज़ी5 का स्टेट ऑफ़ सीज: 26/11 सबसे चर्चित शो में से एक था, जो हमारे बहादुर भारतीय सैनिकों के लिए एक ट्रिब्यूट था, जिन्होंने देश के लिए अपना बलिदान दिया है। एक फ्रेंचाइजी के रूप में घोषित, इस शो को इसकी अंतरराष्ट्रीय अपील और शानदार प्रदर्शन के लिए बेहद पसंद किया गया है। हमारे सैनिकों को श्रद्धांजलि के रूप में, भारतीय भावना को सलाम करते हुए और सीज श्रृंखला की विरासत को जारी रखते हुए, ज़ी5 ने अब 24 सितंबर 2002 को मंदिर पर हुए हमलों पर आधारित मूल फिल्म ‘स्टेट ऑफ सीज: अक्षरधाम’ की घोषणा कर दी है।

24 सितंबर 2002 में गुजरात के गांधीनगर स्थित अक्षरधाम मंदिर में आतंकवादी हमला हुआ था। इस भीषण हमले में 30 से अधिक लोगों की जान चली गई थी और 80 से अधिक घायल हो गए थे। राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड (एनएसजी) ने उस जगह पर पहुंच कर स्थिति को संभाला, आतंकवादियों को सफलतापूर्वक मार गिराया था और इस घेराबंदी को समाप्त किया था।

चाहे वह 26/11 का मुंबई हमला हो या अक्षरधाम, एनएसजी ने हमेशा निर्दोष लोगों की जान बचाने और आतंकवादियों को पकड़ने/मारने में सफल होने के लिए अपनी इच्छाशक्ति और दृढ़ संकल्प का प्रदर्शन किया है। इस फिल्म में आपको उनके सफ़र से रूबरू करवाया जाएग और इस मंदिर हमले के सभी भयानक दृश्यों की झलक साझा की जाएगी।

ड्रीम टीम जिसने स्टेट ऑफ़ सीज: 26/11 की रचना की है कॉन्टिलो पिक्चर्स (अभिमन्यु सिंह) फिल्म का निर्माण करने के लिए वापस आ गए है, जिसे केन घोष द्वारा निर्देशित किया जाएगा जिन्होंने हाल ही में लोकप्रिय और सफल अभय 2 का भी निर्देशन किया है। लेफ्टिनेंट कर्नल (रिटायर्ड) सुदीप सेन जो स्टेट ऑफ़ सीज: 26/11 पर एक सलाहकार थे और 26/11 के मुंबई हमलों के दौरान एनएसजी में दूसरी कमान में इस फिल्म के लिए अपनी विशेषज्ञता प्रदान करेगा। फ़िल्म के पावर-पैक कलाकारों की जल्द ही घोषणा की जाएगी जिसमें आपको कुछ परिचित चेहरे देखने मिलेंगे।

ज़ी5 इंडिया की प्रोग्रामिंग हेड अपर्णा आचरेकर कहती हैं,“ज़ी5 में, हमने हमेशा सुनिश्चित किया है कि हमारे कंटेंट दर्शकों से संबंधित महसूस करे। जब हमने पिछले साल स्टेट ऑफ सीज: 26/11 की घोषणा की थी, तो यह हमारी फ्रेंचाइजी रणनीति का हिस्सा था और शो ने मंच पर बहुत अच्छा प्रदर्शन किया और दर्शकों व आलोचकों द्वारा समान रूप से पसंद किया गया था। अब हमें स्टेट ऑफ सीज: अक्षरधाम की घोषणा करने पर गर्व हो रहा है जो 2002 के भयानक हमले पर आधारित एक मूल फिल्म है। हमारे पास इस परियोजना पर काम करने वाली एक अविश्वसनीय अनुभवी टीम है और हमें एनएसजी की बहादुरी को सलाम करते हुए एक और कहानी पेश करने पर गर्व है। ”

कॉन्टिलो पिक्चर्स के संस्थापक और सीईओ, अभिमन्यु सिंह ने शेयर किया, “हम अपने पहले वेब शो, स्टेट ऑफ सीज: 26/11 के लिए मिली प्रतिक्रिया से अभिभूत थे। इस कहानी में 26/11 के हमलों के दौरान हमारे एनएसजी कमांडो द्वारा प्रतिवाद पर ध्यान केंद्रित किया गया है। स्टेट ऑफ सीज: अक्षरधाम हमारी घेराबंदी कथाओं के मार्ग पर आगे बढ़ने के लिए उपयुक्त और अगले अध्याय की तरह है। इस तरह की कहानियों के साथ, हम यह दिखाना चाहते हैं कि देश ने जो सबसे अधिक परेशान करने वाले हमलों को देखा है, उन्हें किस तरह से हैंडल किया गया था। यह ज़ी5 के साथ हमारा दूसरा सहयोग है और इस फिल्म के साथ, हम केवल इस साझेदारी को मजबूत करने और दर्शकों के साथ एक मजबूत संबंध बनाने की उम्मीद कर रहे हैं। ”

निर्देशक केन घोष कहते हैं,”स्टेट ऑफ सीज एक शानदार फ्रेंचाइजी है और इस फिल्म को निर्देशित करना मेरे लिए बहुत बड़ी जिम्मेदारी है। अभय के बाद ज़ी5 के साथ यह मेरा दूसरा सहयोग है और मैं फिर से टीम के साथ काम करने के लिए उत्सुक हूं। अक्षरधाम हमलों के बारे में सभी जानते हैं, लेकिन बहुत से लोग यह नहीं जानते हैं कि सीन के पीछे क्या हुआ और हमारे एनएसजी सैनिकों द्वारा निभाई गयी भूमिका दिखाई जाएगी। स्टेट ऑफ सीज: अक्षरधाम पूरी घटना को डिकोड करेगा और दर्शकों के सामने पेश करेगा। “

स्टेट ऑफ सीज: अक्षरधाम की शूटिंग जल्द ही शुरू की जाएगी और 2021 में ज़ी5 पर रिलीज की जाएगी।