यह क्या ! अब एक बार फिर बदली 83 और सूर्यवंशी की रिलीज़ तारीख, अब इस दिन होंगी रिलीज़

0
334
83 and Sooryavanshi
83 and Sooryavanshi

मुंबई | COVID-19 महामारी और लॉक डाउन ने इंटरटेनमेंट इंडस्ट्री पर काफी प्रभाव डाला है |उसके कारण फिल्म रिलीज़ की तारीखें स्थगित हो गईं और शूटिंग रोक दी गई। जैसा कि अब चीजें वापस सामान्य हो रही हैं, कई बी-टाउन सितारे लॉकडाउन के महीनों के बाद सेट पर वापस आ गए हैं।

कई फिल्में रिलीज के लिए पूरी तरह तैयार हो गई हैं। कुछ महीने पहले रिलायंस एंटरटेनमेंट ने खुलासा किया कि रोहित शेट्टी की ‘सूर्यवंशी’ और कबीर खान की ’83 ‘क्रमशः दिवाली और क्रिसमस पर रिलीज़ होगी।

अब एक नयी खबर के अनुसार अक्षय कुमार की फिल्म को अब 2021 तक के लिए स्थगित कर दिया गया है कर दिया गया है, जबकि रणवीर सिंह की स्पोर्ट्स ड्रामा ’83 इस साल क्रिसमस पर रिलीज होगी।

रिलायंस एंटरटेनमेंट के सीईओ शिबाशीष सरकार ने बताया, ” हम निश्चित रूप से सूर्यवंशी के लिए 83 की तारीख नहीं बदलना चाहते हैं। सपोर्ट ड्रामा 83 अभी भी क्रिसमस पर रिलीज होने की उम्मीद है। हमें निर्देशक और अभिनेता के साथ सूर्यवंशी की नई रिलीज़ तारीख तय करनी है, लेकिन फिल्म को जनवरी और मार्च के बीच रिलीज होना चाहिए। ”

कबीर खान द्वारा निर्देशित स्पोर्ट्स-ड्रामा ’83’ में रणवीर सिंह को कपिल देव के रूप में दिखाया गया है। फिल्म 1983 में भारत की पहली विश्व कप जीत का प्रदर्शन करती है।दूसरी ओर, सूर्यवंशी रोहित शेट्टी के पुलिस ड्रामा में जुड़ने वाली एक नयी कड़ी है | इसमें अक्षय कुमार और कैटरीना कैफ प्रमुख भूमिकाओं में हैं।

इस बीच,पीएम नरेंद्र मोदी (2019) के निर्माता ने अपनी फिल्म को फिर से रिलीज करने का फैसला किया है। संदीपसिंह की , विवेकानंद ओबेरॉय अभिनीत फिल्म 15 अक्टूबर को सिनेमाघरों में रीरिलीज़ होने के लिए पूरी तरह से तैयार है और सिनेमाघरों में राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन के बाद प्रदर्शित होने वाली पहली फिल्मों में से एक बन गई है।

फिल्म को फिर से रिलीज़ करने के फैसले के बारे में बात करते हुए, फिल्म निर्माता संदीपसिंह ने साझा किया, “पीएम नरेंद्र मोदी देश के सर्वश्रेष्ठ प्रधानमंत्री रहे हैं, जो 2019 के चुनावों में साबित हुआ था। सिनेमाघरों के फिर से खुलने पर आज के समय के सबसे प्रेरक नेता की प्रेरक कहानी देखने से बेहतर और क्या हो सकता है। मुझे इस ऐतिहासिक क्षण का हिस्सा बनने पर गर्व है!इसके अलावा कुछ राजनीतिक एजेंडों के कारण, जब यह पिछली बार रिलीज हुई तो बहुतों द्वारा देखी नहीं जा सकी। हम उम्मीद कर रहे हैं कि फिल्म को सिनेमाघरों में नया जीवन मिले और राष्ट्र के लोगों के लिए एक बेहतरीन फिल्म साबित हो।”