कभी मनोज बाजपेयी के पास नहीं थे खाने के भी पैसे…

0
382

मुम्बई। एक्टर मनोज बाजपेयी ने मेहनत और लगन के साथ काम कर दर्शकों के दिल में खास पहचान बनाई है। बिहार के बेलवा गांव से ताल्लुक रखने वाले मनोज, पहले दिल्ली और फिर मुंबई तक पहुंचे। सिल्वर स्क्रीन पर अपनी जगह बनाई। आज, इनके नाम से कौन वाकिफ नहीं? एक से एक शानदार फिल्म कर इन्होंने इंडस्ट्री में अपनी पहचान बनाई है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि एक वक्त मनोज बोजपेयी की जिंदगी में ऐसा आया था जब उनके पास खाना खाने तक के पैसे नहीं थे?

मनोज बाजपेयी ने एक्टिंग की दुनिया में जब कदम रखा ही था, तब उनके पास ज्यादा पैसे नहीं थे। आर्थिक तंगी से परेशान एक्टर कई बार भूखे पेट सोए। हाल ही में एक इंटरव्यू में मनोज बाजपेयी ने बॉलीवुड में अपने करियर को लेकर बात की। साथ ही फिल्म इंडस्ट्री में एक आउटसाइडर के तौर पर उन्होंने काफी संघर्ष किया, इसके बारे में चर्चा की। 

मनोज कहते हैं कि ‘बेंडिट क्वीन’ के बाद हम में से कई एक्टर मुंबई शिफ्ट हो गए थे। जिंदगी बहुत मुश्किल भरी निकली। दिल्ली में कम से कम हम थिएटर तो कर रहे थे। दिल्ली में पैसा नहीं मिलता था, लेकिन दोस्त मदद करने के लिए तैयार रहते थे। एक-दूसरे को खाना खिला दिया करते थे। मुंबई में हमारे पास काम ही नहीं था। खाना खाने के पैसे नहीं थे। हम जानते ही नहीं थे कि हमें खाना कब मिलेगा। शुरुआत के चार से पांच साल काफी मुश्किल भरे निकले। पहले तीन तो बहुत ज्यादा मुश्किल वाले थे, पर्सनली और प्रोफेशनली दोनों तरफ से।