Site icon Bol Bol Bollywood

Review : लाजबाब एक्टिंग और बेहतरीन डायरेक्शन…और कहानी के अंदर कहानी, ऐसी है AK Vs AK

Anil Kapoor Ak Vs Ak

Anil Kapoor Ak Vs Ak

मुंबई। अभिनेता अनिल  कपूर और अनुराग कश्यप की फिल्म ‛एके वर्सेस एके’ (AK Vs AK) ने जिस तरह से दर्शकों में उम्मीद जगाई थी। वह उसमें सफल होती दिखाई दे रही हैं। फिल्म हर एंगल से दर्शकों के पसंद आ रही है। यानि एक्टिंग, डायरेक्शन, कॉस्ट्यूम और लोकेशन, डायलॉग सब कुछ। दर्शकों से मिल रही प्रतिक्रिया के मुताबिक इस फिल्म को 5 से 4.7 तक की रेटिंग दी जा सकती हैं। आपको बता दें कि विक्रमादित्य मोटवानी द्वारा निर्देशित इस फिल्म की कहानी रील और रियल के मिक्स प्लॉट पर बनी गई हैं। फिल्म AK Vs AK नेटफ्लिक्स पर रिलीज की गई  है। फिल्म में अभिनेता अनिल कपूर और मशहूर डायरेक्टर अनुराग कश्यप ने अपना ही किरदार निभाया है।
ऐसी है स्टोरी: एक दर्शक ने फिल्म देखने के बाद बताया कि एके वर्सेस एके की कहानी की शुरुआत के दौरान अनुराग कश्यप और अनिल कपूर की लड़ाई हो जाती है। यह लड़ाई इतनी जबरदस्त होती है कि दोनों एक-दूसरे पर निजी कमेंट्स तक कर देते  हैं। इस लड़ाई से गुस्साए अनुराग सभी के सामने अनिल कपूर के चेहरे पर पानी उड़ेल देते हैं। इसके बाद दोनों की यह लड़ाई सुर्खियों में आ जाती है। कहानी चौंकाने वाली दिशा में मुड़ने लगती हैं। अब अनुराग कश्यप इसे ईगो को हिस्सा बना लेते हैं और वे 40 साल से इंडस्ट्री में राज कर रहे अनिल कपूर को सबक सिखाना चाहते हैं। इसके लिए  वह सोनम कपूर को किडनैप कर लेते हैं और अनिल कपूर को टास्क देते हैं। इसके तहत अनिल कपूर को अपनी बेटी सोनम को 10 घंटे के अंदर ढूंढना होता है। इसके बाद शुरू होती हैं असली कहानी।
डायरेक्शन:  फिल्म का अच्छा निर्देशन किया गया है। इसके लिए डायरेक्टर विक्रमादित्य मोटवानी की तारीफ की जानी चाहिए। इसकी स्क्रिप्ट भी एकदम टाइट हुई है। जैसे जैसे आप फिल्म को देखते जाते हैं आपको हर चीजें असली लगती लगने लगती है। एक तरह से देखा जाए तो फ़िल्म के तीन हीरो हैं पहले अनिल कपूर, अनुराग कश्यप और बिहाइंड द स्क्रीन विक्रमादित्य मोटवानी। और तीनों ने जबरदस्त काम किया हैं।

Exit mobile version