Exclucive -Tandav : अमेज़न प्राइम की वेब सीरीज में उड़ाया गया हिन्दू देवी देवताओं का मज़ाक

0
353
Tandav
Tandav

मुंबई | bol bol bollywood की खबर के बाद देश भर की मीडिया ने इस मुद्दे को उठाया। अमेज़न प्राइम पर सैफ अली खान की वेब सीरीज Tandav रिलीज़ हुई है जिसमे भगवान शिव,और हिंदी देवी देवताओं का मज़ाक बनाया गया है |जिसके कारण काफी बवाल मचा हुआ है | अब सवाल यह है कि क्या क्रिएटिविटी के नाम पर यूँ भगवान का मज़ाक बनाना ठीक है या फिर इस बात पर सवाल खड़ा करना लाज़मी है |

तांडव के पहले ही एपिसोड में JNU की रिप्लिका BNU बनायी गयी है ,जहाँ छात्र आन्दोलन को पूरी सीरिज में प्रदर्शित किया गया है और राजनीति में इसके योगदान पर प्रकाश डाला गया है | इसी VNU में स्टेज पर एक नाटक हो रहा है और इसमें भगवान् शिव अपने कैलाश पर आराम कर रहे हैं,तभी नारद मुनि आते हैं और कहते हैं भोलेनाथ,प्रभु इश्वर ,भगवान राम के सोशल मीडिया पर फोलोवर्स लगातार बढ़ते जा रहे हैं |हमे कुछ नयी सोशल मीडिया स्ट्रेटेजी बनाना चाहिए |

इस पर शिव जी कहते है क्या करूँ कोई नयी फोटो लगाऊं ,नारद जी कहते हैं भगवन आप बहुत भोले हैं |कुछ तडकता भड़कता कुछ नया कीजिये कुछ सेंसेशनल कीजिये |जैसे कि कैम्पस के सारे विद्यार्थी देश द्रोही हो गए हैं उन्हें आज़ादी चाहिए |इस पर भगवान् शंकर कहते हैं आज़ादी |”व्हाट द ……..”

अब सवाल यह उठता है कि क्या क्रिएटिविटी के नाम पर यूँ भगवान् के मुँह से गाली दिलवाना ठीक है,क्या किसी और किरदार के बीच निर्देशक अली अब्बास जाफर यह संवाद नहीं दिखा सकते थे |इससे लोगों की धार्मिक भावनाए आहात होती है और लोग इसके विरोध में आते हैं |

इससे पीला भी ऐसा कई बार हो चुका है विशाल ददलानी के जैन मुनि पर टिपण्णी करने के बाद पूरा जैन समाज इसके विरोध में उतरा था |उन्हें माफ़ी मांगनी पड़ी थी |राम रहीं के पहनावे को लेकर भी सिख संदाय में काफी बड़ा मुद्दा उठा था |

अब सवाल यह है कि क्या क्रिएटिविटी के नाम पर यूँ भगवान का मज़ाक बनाना ठीक है और इसे यूँ ही छोड़ दिया जाए या फिर इस बात पर सवाल खड़ा करना लाज़मी है|