50 Years: अमेरिकन कहानी को Indian रंग में ऐसा रंगा की बेमिसाल बन गई Kati Patang

0
404
Kati Patang Movie 1971
Kati Patang Movie 1971

BolBolBollywood.com, स्पेशल स्टोरी, मुंबई। बॉलीवुड के सुपर स्टार राजेश खन्ना (Rajesh Khanna) और आशा पारेख (Asha Paresh) की जोड़ी की सुपरहिट फिल्मों में एक कटी पतंग (Kati Patang) के आज 50 साल पूरे हो गए हैं। 29 जनवरी 1971 को रिलीज हुई फिल्म न केवल कमर्शियल हिट थी बल्कि इसने आशा पारेख को सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री का पहला फिल्म फेयर अवॉर्ड भी दिलाया था। यह 1971 में 6थीं सबसे ज्यादा कमाई करने वाली फिल्मों में एक थी। यह वह साल था जब राजेश खन्ना की कामयाबी लोगों के सिर चढ़कर बोल रही थी। इस साल एक के बाद के 8 सफल फिल्में रिलीज की गई जिनमें से एक कटी पतंग भी शामिल थी। यह फ़िल्म 1981 में तमिल में नेजिल औरु मिल (Nenjil Oru Mul), तेलुगु में पुन्नामी चंद्रदुदु (Punnami Chandrudu) नाम से बनाई गई थी। असल मे यह फिल्म एक अमेरिकन लेखक कॉनरेल बुलरिच (Cornell Woolrich) के उपन्यास आई मैरिड अ डैड मैन (I Married a Dead Man) से प्रेरित बताई जाती हैं जो फिल्म के रिलीज से 23 साल पहले 1948 में पब्लिस हुआ था।

कटी पतंग (1971) का डायरेक्शन और निर्माण शक्ति सामंत (Shakti Samant) ने किया था। यह बॉक्स ऑफिस पर सफल रही थी। फिल्म में आशा पारेख एक विधवा का किरदार निभाती है और जबकि राजेश खन्ना उनके पड़ोसी की भूमिका में होते है। यह फिल्म 1969 और 1971 के बीच राजेश खन्ना की लगातार 17 हिट फिल्मों में से एक है और चार फिल्मों में से दूसरी है जिसमें उनकी आशा के साथ जोड़ी बनाई गई थी। इसके अलावा फिल्म में प्रेम चोपड़ा, बिंदू, नासिर हुसैन जैसे कलाकारों की प्रमुख भूमिकाएं थी।

एक से बढ़कर एक गानों ने मचा दी धूम
इस फिल्म में अभिनेता राजेश खन्ना के लिए किशोर कुमार (Kishore Kumar) द्वारा गाए गए गाने फिल्म की सफलता का कारण थे। जबकि मुकेश ने भी उनके लिए एक गीत गाया था। फिल्म के सभी गीत आनन्द बक्शी द्वारा लिखे गए थे और संगीत आरडी बर्मन द्वारा रचित था। इन गानों में किशोर कुमार के गाये गए, ‛प्यार दीवाना होता है’, ‛ये शाम मस्तानी’, ‛ये जो मोहब्बत है’  और ‛आज न छोड़ेंगे’ शामिल हैं, जबकि ‛जिस गली में तेरा घर’ को मुकेश ने आवाजें दी थी।इसके अलावा लता मंगेश्कर का गाया हुआ ‛ना कोई उमंग है’ और आशा भोंसले-आरडी बर्मन का ‛मेरा नाम है शबनम’ शामिल हैं।