19 मार्च को FIAF Award से सम्मानित होंगे Amitabh Bachchan

0
171
Amitabh Bachchan
Amitabh Bachchan

मुंबई। भारतीय सिनेमा के महानायक अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) को द इंटरनेशनल फेडरेशन ऑफ फिल्म आर्काइव्स (FIAF ) द्वारा 19 मार्च को आयोजित होने वाले वर्चुअल समारोह में सम्मानित किया जाएगा। उन्हें साल 2021 का एफआईएएफ अवार्ड दिया जा रहा है। बिग बी का नाम एफआईएएफ संबद्ध फिल्म हेरिटेज फाउंडेशन द्वारा नामित किया गया था। जिसकी स्थापना फिल्म निर्माता शिवेंद्र सिंह डूंगरपुर ने की थी। मार्टिन स्कॉर्सेस और क्रिस्टोफर नोलन उन्हें पुरस्कार प्रदान करेंगे। वे यह वैश्विक पुरस्कार पाने वाले पहले भारतीय होंगे। मार्टिन स्कॉर्सेस (2001), इंगमार बर्गमैन (2003) और क्रिस्टोफर नोलन (2017) को इस सम्मान से नवाजा जा चुका है।

इसकी घोषणा के बाद अमिताभ बच्चन ने कहा कि, ‘मुझे इस पुरस्कार को प्राप्त करने पर बहुत सम्मानित महसूस हो रहा है। जब मैं 2015 में फिल्म हेरिटेज फाउंडेशन का एंबेसेडर बना, तब मुझे अपनी कीमती फिल्म विरासत की उपेक्षा और भारी नुकसान का अहसास हुआ। हम हर दिन अपनी विरासत को खोते जा रहे हैं। स्थिति की गंभीरता को स्वीकार करते हुए मैं उनके साथ मिलकर काम कर रहा हूं ताकि हमारी फिल्मों को बचाने और फिल्म संरक्षण को एक आंदोलन बनाने के लिए प्रयास किये जा सके। साथ ही हमारे बस में जो कुछ हो सकेगा वह करेंगे। हमें इस विचार को मजबूत करना चाहिए कि फिल्म संग्रह उतना ही आवश्यक है जितना कि फिल्म निर्माण। हम फिल्म उद्योग और सरकार से इसके लिए समर्थन प्राप्त करने की कोशिश में हैं। जिससे हम अपने सपनों को साकार करने में सक्षम हो सकें।

मार्टिन स्कॉसेर्से कहते हैं कि, ‛सिनेमा की सुरक्षा एक वैश्विक कारण है। भारत की फिल्म विरासत को संरक्षित करने के लिए अमिताभ बच्चन की वकालत असाधारण रही है। पांच दशकों से अधिक के करियर के साथ वे एक प्रसिद्ध अभिनेता हैं। जिन्होंने पूरे उपमहाद्वीप में अपनी प्रतिष्ठा का असर डाला है। इसलिए इस साल इस पुरस्कार के लिए उनसे अधिक योग्य व्यक्ति कोई नहीं हो सकता हैं

अपनी फिल्म विरासत को संरक्षित करने की आवश्यकता पर आगे जोर देते हुए नोलन कहते हैं, “मुझे पता है कि यह कितना जरूरी है कि दुनिया भर के फिल्म उद्योग के प्रतिनिधि यह सुनिश्चित करने के लिए एक साथ आएं कि हम अपनी फिल्म विरासत को संरक्षित करें। मैं 2021 सम्मान पाने के लिए अमिताभ बच्चन को बधाई देना चाहता हूं।

एफआईएएफ के प्रेसीडेंट फ्रेडरिक मायेर का कहना है कि, ‘दुनिया के महानतम फिल्म सितारों में से एक अमिताभ बच्चन से बेहतर प्राप्तकर्ता कोई और हो ही नहीं सकता है। उन्होंने फिल्म संरक्षण के लिए वर्षोें काम किया, उसे समझा और प्रचारित किया है। अमिताभ बच्चन को यह पुरस्कार प्रदान करके हम दुनिया को दिखाना चाहते हैं कि यह अनूठी फिल्म विरासत कितनी समृद्ध और विविधतापूर्ण है। हम सार्वजनिक रूप से फिल्म विरासत के लिए एक उच्च स्तरीय प्रवक्ता के रूप में उनकी भूमिका के चलते  उन्हें धन्यवाद देना चाहते हैं।

शिवेंद्र सिंह डूंगरपुर कहते हैं कि फिल्म संरक्षण में भारत का रिकॉर्ड निराशाजनक है। हमारी नींव हमारी विलुप्तप्राय फिल्म विरासत के अवशेषों को संरक्षित करने के लिए अथक प्रयास कर रही है। हम काफी भाग्यशाली रहे हैं जो अमिताभ बच्चन के समर्थन का आनंद ले रहे हैं, जिन्होंने हमारी फिल्म विरासत को बचाने का कारण बनाया है।