विवादों में घिरी Sanjay Leela Bhansali की गंगूबाई कठियावाड़ी, विस में उठा मामला

0
113
Gangu Bai Kathiawadi

मुंबई। विवाद और संजय लीला भंसाली (Sanjay Leela Bhansali) दोनों एक-दूसरे के पूरक दिखाई देते हैं। ऐसा नहीं होता है कि उनकी फिल्में विवादों में घिरी नजर नहीं आए। इससे पहले चाहे वह राम लीला हो या फिर बाजीराव मस्तानी। या फिर पद्मावत को लेकर देश भर में दिखा प्रदर्शन हो। हर बार रिलीज से पहले और बाद में जमकर विरोध हुआ ही है। ऐसे में एक फिर बार उनकी फिल्म गंगू बाई कठियावाड़ी (Gangubai Kathiawadi) जुलाई में रिलीज की तैयारी में है और यह विवाद से न जुड़े एक कैसे हो सकता है।

ताजा मीडिया रिपोर्ट में बताया गया है कि उनकी आगामी फिल्म गंगूबाई काठियावाड़ी में कामठीपुरा के क्षेत्र के लोगों की भावनाएं आहत हुई है। यही नहीं एक वेब शो कमाठीपुरा भी जांच के दायरे में है। इसके चलते महाराष्ट्र विधानसभा सत्र में एक विधायक ने कहा है कि, इन दोनों परियोजनाओं के परिणामस्वरूप नागपाड़ा (मुंबई) में कानून-व्यवस्था के खराब होने की स्थिति निर्मित हो रही है। ओटीटी प्लेटफार्म हॉटस्टार कामठीपुरा का प्रसारण करने जा रहा है, यह एक बहुत खराब धारावाहिक है और अतिरिक्त पुलिस आयुक्त ने टेलीकास्ट पर रोक लगा दी थी। मैं आपसे अनुरोध करता हूं कि इसे प्रसारित न होने दें।

उन्होंने यह भी कहा कि लोगों को उस महिला के बारे में पता होना चाहिए जिसने अच्छा काम किया है, लेकिन यह फिल्म, गंगूबाई काठियावाड़ी और कामठीपुरा को खराब तरीके से पेश करती है। 50 के दशक में जो कमाठीपुरा था आज उससे अलग है। अब वहां की लड़कियां डॉक्टर, इंजीनियर और पॉयलेट बनने के लिए आगे बढ़ी हैं। मैं आपसे और गृह मंत्री से अनुरोध करता हूं कि फिल्म को बदलें और यह भी दिखाएं कि आज कामठीपुरा में चीजें कैसे बदल गई हैं। उन्होंने शीर्षक में ‘काठियावाड़’ शब्द का इस्तेमाल किया है और यह काठियावाड़ की इमेज खराब करने की कोशिश है। मैं सरकार से अनुरोध करता हूं कि वह हस्तक्षेप करें और इसका टाइटल बदलने को कहे।’ बहरहाल, अभी तक फिल्म के निर्माताओं की ओर से कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है। गंगूबाई जुलाई के महीने में थियेटर रिलीज के लिए तैयार है। इससे पहले हाल ही में मेकर्स ने फिल्म का टीजर जारी किया था जिसे दर्शकों द्वारा काफी सराहा गया था।