बाल आयोग ने 24 घंटे के लिए रोकी नेट फ्लिक्स की वेबसीरीज Bombay Begums

0
110
Bombay Begums Netflix web Show
Bombay Begums Netflix web Show

मुंबई। नेटफ्लिक्स (Netflix) की बेव सीरीज बॉम्बे बेगम्स का प्रसारण रोक दिया गया है। आरोप है कि इसमें बच्चों का गलत तरीके से चित्रण किया गया है। दरअसल, बॉम्बे बेगम्स (Bombay Begums) का निर्देशन अलंकृता श्रीवास्तव ने किया है। यह पांच महिलाओं की कहानी है। जिसमें पूजा भट्ट (Pooja Bhatt) के साथ अमृता सुभाष, शाहाना गोस्वामी, आध्या आनंद और प्लाबिता बोरठाकुर की प्रमुख भूमिकाएं है।

8 मार्च को महिला दिवस के मौके पर रिलीज हुई यह सीरीज का प्रसारण राष्टÑीय बाल आयोग ने रोकने के लिए कहा है। साथ ही नेटफ्लिक्स को नोटिस भेजकर जवाब मांगा है। इस नोटिस में कहा गया है कि वह 24 घंटे के भीतर एक विस्तुत कार्रवाई रिपोर्ट पेश करें। एक मीडिया रिपोर्ट में बताया गया है कि आयोग ने अपने नोटिस में कहा है कि, ‘नेटफ्लिक्स को बच्चों के संबंध में या बच्चों के लिए किसी भी सामग्री को स्ट्रीम करते समय अतिरिक्त सावधानी बरतनी चाहिए। आपको इस मामले को देखने के लिए आदेश दिया जाता है और तुरंत इस सीरीज की स्ट्रीमिंग रोक दी जाए। ’ आयोग के नोटिस में लिखा है कि, ‘24 घंटों के भीतर एक विस्तृत कार्रवाई रिपोर्ट प्रस्तुत की जाए. अगर ऐसा नहीं होता है, तो आयोग को सीपीसीआर अधिनियम, 2005 की धारा 14 के प्रावधानों के तहत उचित कार्रवाई के लिए बाध्य किया जाएगा।’

अचानक क्यों हुई कार्रवाई..?
दरअसल, बाल आयोग को एक शिकायत मिली थी। इस शिकायत में आरोप लगाया गया था कि इस सीरीज में नाबालिगों का कैजुअल सेक्स दिखाया गया है। यही नहीं उन्हें नशील पदार्थों का सेवन करते दिखाया गया है। जो काूननी रूप से अवैध है। इसके बाद ओटीटी प्लेटफॉर्म नेटफ्लिक्स को नोटिस भेजा है। शिकायत में राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग ने सीरीज में बच्चों के कथित अनुचित चित्रण पर आपत्ति जताते हुए कहा कि इस प्रकार के कंटेंट से न केवल युवा लोगों के दिमाग पर बुरा असर पड़ेगा। इससे बच्चों के साथ दुर्व्यवहार और शोषण भी हो सकता है।