P. Balachandran का 62 साल की उम्र में निधन, ‘गांधी’ में भी किया अभिनय

0
176
P. Balachandran
Malayalam actor P Balachandran has died at the age of 62. He also worked in the Malayalam film industry as a screenwriter.

मुंबई। मलयालम अभिनेता, नाटककार और लेखक पी. बालाचंद्रन (P. Balachandran) का 62 साल की उम्र में निधन हो गया है। उन्हें मलयालम सिनेमा और साहित्य में उनके योगदान के लिए याद किया जाएगा। बताया जाता है कि वे कई महीनों से बीमार थे। जिसकी वजह से सोमवार तड़के उनका निधन हो गया। पद्मनाभन बालचंद्र्र्रन नायर (P. Balachandran) का जन्म 2 फरवरी, 1952 को केरल के कोल्लम जिले के सस्तमकोट्टा गांव में हुआ था। उन्होंने मलयालम फिल्म उद्योग में पटकथा लेखक और अभिनेता दोनों के रूप में काम किया। उन्होंने रिचर्ड एटनबरो की 1982 की फिल्म ‘गांधी’ के साथ एक एक्स्ट्रा कलाकार के रूप में अभिनय किया था। वह त्रिवेंद्र्रम लॉज, थैंक यू, साइलेंस जैसी फिल्मों में भी नजर आए। उन्होंने अंकल बन, कल्लू कोंडोरू पेनु, पुलिस आदि की पटकथाएं लिखीं है। यही नहीं साल 2012 में उन्होंने इवान मेघारूपन को निर्देशित किया था।

यह फिल्म अपने करियर के एकमात्र निर्देशक कवि टीपी कुन्हीरामन नायर के जीवन पर आधारित थी। एक नाटककार के रूप में उन्हें ‘पावम उस्मान’ के लिए याद किया जाएगा। इसके लिए उन्हें 1989 में केरल साहित्य अकादमी पुरस्कार और केरल व्यावसायिक नाटक पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। बालाचंद्रन को आखिरी बार ममूटी के नेतृत्व वाली राजनीतिक थ्रिलर वन में देखा गया था। वे अपने पीछे पत्नी श्रीलेथा और दो बच्चे श्रीकांत और पार्वती को छोड़ गए हैं।

उनके निधन पर अभिनेता और निर्माता जयसूर्या ने अपने फेसबुक पेज पर बालाचंद्रन की एक तस्वीर साझा कर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की है। निर्माता विजयन ईस्टकॉस्ट ने फेसबुक पर लिखा, ‘अभिनेता, लेखक और निर्देशक पी. बालाचंद्रन के आज निधन पर दिल से संवेदनाएं।’ इसके अलावा बड़ी संख्या में उनके चाहने वालों द्वारा दुख जताया जा रहा है। एक यूजर्स राहुल गोस्वामी ने लिखा है कि, ‘पी बालाचंद्रन ने अपने करियर में कई यादगार भूमिकाओं को निभाया है। वे मलयालम फिल्म इंडस्ट्री के ऐसे दिग्गज है जिनकी जगह कोई नहीं ले सकता है।’