Corona से मृत टेक्नीशियन के परिजन को FWICE की पहल पर मिली ₹11 लाख की मदद

0
64
FWICE
Corona से मृत टेक्नीशियन के परिजन को FWICE की पहल पर मिली ₹11 लाख की मदद.

मुंबई। कोरोना संक्रमण (Corona Virus) की दूसरी लहर ने बॉलीवुड (Bollywood) से जुड़े लोगों को बड़ी संख्या में प्रभावित किया है। ऐसे ही एंड टीवी पर प्रसारित क्राइम बेस्ड शो ‘मौका-ए-वारदात’ (Mauka-E-Vardaat) की दिल्ली मे शूटिंग समाप्त करके लौटे एक असिस्टन्ट आर्ट डायरेक्टर लक्ष्मण शर्मा (दीपक)  मुंबई आने के बाद कोरोना (Corona Virus) पॉजिटिव पाए गए और मुंबई मे इलाज के दौरान उनका देहांत हो गया। वे फेडरेशन ऑफ वेस्टर्न इंडिया सिने एम्प्लॉयज (FWICE) से सलग्न एसोसिएशन आर्ट डायरेक्टर एसोसिएशन (एटीएडीसीडी) के सदस्य थे। एफडब्लूआइसीई (FWICE) के पदाधिकारियों और यूफोरिया प्रोडक्शंस की ओर से शो के निर्माता आरव जिंदल के साथ हुई एक संयुक्त बैठक में मृत टेक्नीशियन  के परिजन को ग्यारह लाख रुपए आर्थिक  मदद देने का निर्णय लिया गया। आर्थिक मदद का चेक दिवंगत लक्ष्मण शर्मा (दीपक) की धर्मपत्नी श्रीमती पूनम शर्मा को एफडब्लूआइसीई के प्रेसीडेट बीएन तिवारी, जनरल सेक्रेटरी अशोक दुबे, कोषाध्यक्ष गंगेश्वर श्रीवास्तव (संजू) एवं चीफ एडवाइजर अशोक पंडित द्वारा सौंपा गया।

गौरतलब है कि हाल ही में एफडब्लूआइसीई ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को पत्र लिखकर फिल्मों और टीवी सीरियल की शूटिंग को छूट देने की मांग की है। इस पत्र में कहा गया है कि इन पाबंदियों की वजह से बड़ी संख्या में इंडस्ट्री के कामगार प्रभावित हुए है। इस पत्र में सरकार को पहले लिखे गए पत्र का उल्लेख करते हुए कहा है कि, ‘विषय वस्तु के संदर्भ में हम आपका ध्यान एफडब्ल्यूआईसीई और समन्वय समिति द्वारा इंडस्ट्री में काम फिर से शुरू करने के हमारे अनुरोध के संबंध में भेजे गए कई अनुरोधों की ओर आकर्षित करना चाहते हैं। हालांकि, आपके कार्यालय द्वारा हमारे किसी भी पत्र का जवाब नहीं दिया गया है और हमारे अनुरोधों पर कोई निर्णय नहीं लिया गया है। इस पत्र में सरकार को सभी सावधानियां बरतने का विश्वास दिलाते हुए लिखा है कि, ‘एफडब्ल्यूआईसीई (FWICE) और समन्वय समिति आपको आश्वस्त करती है कि सरकार के सभी नियमों और विनियमों का पालन प्रत्येक क्रू मैंबर्स के सदस्य द्वारा किया जाएगा और प्रत्येक कार्य स्थान पर सभी आवश्यक सावधानी बरती जाएगी। हम तदनुसार एम एंड ई उद्योग में काम फिर से शुरू करने के लिए आपकी समझ, सहयोग और आपकी अनुमति के लिए तत्पर हैं।’