जो लोग Sushant Singh Rajpoot को पसंद करते हैं वे जिंदा रखेंगे उनकी विरासत: Abhisek Kapoor

0
70
Abhisek Kapoor Shared Shushant singh pic
Abhisek Kapoor Shared Shushant singh pic

मुंबई। अभिषेक कपूर (Abhisek Kapoor) और सुशांत सिंह राजपूत अपनी पहली फिल्म काई पो छे (2013) से काफी करीब थे। दोनों फिल्मों और विभिन्न अुुन्य विषयों पर बंधते थे। आज 14 जून को सुशांत की पहली पुण्यतिथि पर अभिषेक (Abhisek Kapoor) अपने प्रिय मित्र को याद करते हैं और बताते हैं कि कैसे आज तक, वह इस तथ्य के साथ नहीं आ पाए कि सुशांत नहीं रहे। उन्होंने कहा कि, ‘आप इससे खुद को ठीक नहीं कर सकते … आपको इससे खुद को छुड़ाना होगा। ऐसे अभिनेता को खोने के लिए … यह देश में अन्य वंचित प्रतिभाओं को क्या कहेंगे न कि केवल अभिनेता बल्कि यह उनके लिए कितना निराशाजनक है? हमें उन सभी लोगों का मनोबल वापस लाना है।’

फोर्ब्स से बात करते हुए और सुशांत सिंह राजपूत को याद करते हुए अभिषेक कपूर कहते हैं, ‘यह एक व्यक्ति और सामूहिक रूप से बहुत बड़ी क्षति है। एक प्रिय मित्र होने के नाते अभिषेक कपूर को लगता है कि फिल्म उद्योग में लोगों को सुशांत सिंह राजपूत के निधन से बहुत कुछ सीखने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि, ‘किसी को इतना अधिक आमंत्रित और पवित्रता का जश्न मनाना होगा। व्यवसायियों को व्यवसाय करने दें और रचनात्मक लोगों को रचनात्मक कार्य करने दें। वे जो हैं उसके लिए सभी का सम्मान करें। अन्यथा, यह वास्तव में जहरीला हो सकता है। एक बेहतर माहौल होना चाहिए क्योंकि अभिनेता, कलाकार, निर्माता बहुत कुछ करते हैं जब वे कुछ बनाते हैं … वे ज्यादातर समय कुछ मूल बना रहे होते हैं। स्वाभाविक रूप से, यह एक नाजुक स्थिति है। यह हर समय कुछ नया करने के लिए खुद को इतना उजागर करने के लिए एक नाजुक स्थिति है। उन्हें और अधिक नाजुक ढंग से संभालने की जरूरत है। हर कलाकार एक अलग व्यक्ति होता है… वे अद्वितीय होते हैं और एक कलाकार का स्वागत किया जाना चाहिए।’

अपने प्रिय मित्र सुशांत सिंह राजपूत के असामयिक निधन के सदमे से बाहर नहीं निकल पा रहे अभिषेक कपूर का कहना है कि सुशांत की विरासत हमेशा के लिए रहेगी। सुशांत की विरासत सितारों में है… वह वहां है। वह एक बहुत बड़े विज्ञान प्रेमी थे। जो लोग उसके काम से प्यार करते हैं, वे उनकी विरासत को जीवित रखेंगे। वह अब सिर्फ अपने काम से कहीं ज्यादा के औरों के लिए खड़े है।