काश, मेरा Govinda के जैसा बेटा होता: सुनीता आहूजा

0
98
Sunita Ahuja Teena and Govinda
Sunita Ahuja Teena and Govinda

मुंबई। जी टीवी (Zee TV) के शो इंडियन प्रो म्यूजिक लीग (Indian Pro Music League) में इस वीकेंड रोमांच चरम पर पहुंच जाएगा, जहां सभी छह टीमों का एक सुपर मैच होगा। इस शो में फाइनल की रेस शुरू हो चुकी है और इस वीकेंड आप सभी टीमों को टॉप 4 में अपनी जगह बनाने के लिए जबर्दस्त मुकाबला करते देखेंगे। हालांकि इस दौरान बंगाल टाइगर्स के एंबेसडर और स्पेशल गेस्ट गोविंदा इस शो में छा जाएंगे। इस नाइंटीज स्पेशल एपिसोड में ची ची अपनी पत्नी सुनीता (Sunita Ahuja) और बेटी टीना के साथ खास मेहमान बनकर पहुंचेंगे, जहां इंडियन प्रो म्यूजिक लीग के मंच पर गोविंदा का बुखार चढ़ जाएगा। शूटिंग के दौरान गोविंदा ‘व्हॉट इज मोबाइल नंबर’ और ‘यूपी वाला ठुमका’ जैसे गानों पर डांस करते भी नजर आए, साथ ही अपने एक्टिंग करियर से जुड़ी कुछ दिलचस्प बातें भी बताईं। हालांकि इस दौरान जब उन्होंने मंच पर अपनी बहन, दोस्तों और सहकर्मियों के संदेशों वाला एक स्पेशल वीडियो ट्रिब्यूट देखा तो उनका दिल भर आया और उन्होंने कुछ दिल छू लेने वाले खुलासे किए। हालांकि सुनीता (Sunita Ahuja) के एक खुलासे ने सभी को आश्चर्य से भर दिया।

शूटिंग के दौरान इमोशनल गोविंदा ने कहा, ‘आप सभी का शुक्रिया। यह वीडियो देखकर मेरी बहुत-सी यादें ताजा हो गई। मैं कहना चाहूंगा कि बहुत कम ऐसे खुशकिस्मत लोग होते हैंं, जिन्हें अपने मां-बाप की सेवा का मौका मिलता है और उनका ख्याल रखने का मौका मिलता है। मैं भी खुशकिस्मत रहा हूं कि मुझे अपने माता-पिता की सेवा करने का मौका मिला। इसके लिए मैं वाकई शुक्रगुजार हूं। मुझे याद है मेरी मां हमारे लिए किस तरह हर दिन गाया करती थी और उनकी खूबसूरत आवाज सुनकर ही हमारे दिन की शुरूआत होती थी। उस समय लोग कहते थे कि वो हर दिन पूजा क्यों करती हैं, लेकिन एक घर पाने और सफलता हासिल करने का हमारा सपना उन्हीं की दुआओं, कड़ी मेहनत और आशीर्वाद का फल है। मैंने कभी नहीं सोचा था कि मैं उस चॉल बाहर आ पाऊंगा, लेकिन यह सब इसलिए हुआ क्योंकि मेरी मां को मुझ पर विश्वास था।’

अपने सफर के बारे में बताते हुए गोविंदा की पत्नी सुनीता ने कहा, ‘36 साल की अपनी शादी में मैंने उन्हें एक सबसे अच्छे भाई, सबसे अच्छे बेटे, सबसे अच्छे पिता और सबसे अच्छे पति के रूप में देखा है। लेकिन मेरी एक ख्वाहिश है और वो ये कि काश मेरा उनके जैसा एक बेटा होता, क्योंकि जिस तरह से वो अपने मां-बाप के साथ थे और उनका ख्याल रखा, इससे मुझे उनके जैसा बेटा पाने की इच्छा होती है।’