Kunal Kapoor भारत के विंटर ओलंपियन शिव केशवन पर बनाएंगे बायोपिक

0
65
Kunal Kapoor
Kunal Kapoor

मुंबई | अभिनेता Kunal Kapoor सहायक निर्देशक के रूप में अपने करियर के शुरूआती दौर से ही कहानियां लिख रहे हैं और तब से ही वह फिल्म निर्माता बनने का सपना देख रहे थे । अब कुनाल कपूर ने आखिरकार निर्माता बनने का फैसला किया है ।कुनाल ने भारत के सबसे महान विंटर ओलंपियन माने जाने वाले शिव केशवन की बायोपिक बनाने के बारे में सोचा है|

“मुझे लगता है कि कहानीकार बनने का यह सबसे अच्छा समय है। जब मैं शुरुआत कर रहा था, तो एक खास तरह का सिनेमा बन रहा था। फिल्मों को एक सांचे में फिट होना पड़ता था, अब यह ट्रेंड टूट चुका है। दर्शकों को अलग अलग तरह का कंटेंट पसंद आ रहा है और वह हर तरह के विषयों को खुले मन से देख और अपना रहे है | और आपके पास तकनीशियनों की एक पूरी नई टीम है, जो इस तरह से सोचते हैं जो मूल और अद्वितीय है। यह रोमांचक है कि इतनी सारी फिल्में बन रही हैं जो भारत में पहले से मौजूद विषयों जैसे कि छोटे शहरों की कहानियां, गुमनाम नायकों की और हमारे देश के इतिहास के बारे में हैं।

वह कहते हैं, “मैं एक सहायक निर्देशक के रूप में अपने शुरूआती दिनों से कहानियाँ लिख रहा हूँ। और मैं उन कहानियों को न केवल एक अभिनेता के रूप में बल्कि एक निर्माता और निर्देशक के रूप में भी जीवंत करना पसंद करूंगा। एक अभिनेता के रूप में, आपका इस पर बहुत कम नियंत्रण होता है कि आपको किन कहानियों को बताने का मौका मिलता है। आप केवल वही चुन सकते हैं जो आपको प्रस्तुत किया जाता है और आप किसी औरके विजन का हिस्सा होते हैं। लेकिन एक निर्माता के रूप में आपके पास अपने खुद के विजन को जीवंत करने का मौका है।”

विंटर ओलंपियन माने जाने वाले शिव केशवन ने लगातार छह शीतकालीन ओलंपिक में देश का प्रतिनिधित्व किया और 1998 और 2002 के खेलों के दौरान इसके एकमात्र प्रतिनिधि भी थे। Kunal Kapoor ने विस्तार से बताया, “वह एक अद्भुत एथलीट हैं। मुझे शिव केशवन की ओर आकर्षित करने वाली बात न केवल यह थी कि उन्होंने छह बार ओलंपिक में भारत का प्रतिनिधित्व किया है, बल्कि यह भारत की उन अविश्वसनीय चीजों के बारे में भी एक कहानी थी जिन्हें हम सीमित संसाधनों के साथ हासिल करने का प्रबंधन करते हैं। यह हमारी संस्कृति और विविधता का प्रतीक भी है।