अविनाश रेखी ने ऐसा कैसे किया ?

0
41

क्या आपको पता था कि ज़ी टीवी के आगामी शो ‘तेरे बिना जिया जाए ना’ के लिए अविनेश रेखी ने घटाया 13 किलो वजन?

जब आप किसी चीज को दिल से चाहते हैं, तो सारी कायनात उसे आपसे मिलाने में लग जाती है! ज़ी टीवी का आगामी शो ‘तेरे बिना जिया जाए ना‘ कृषा चतुर्वेदी नाम की एक लड़की की ऐसी ही एक कहानी है, जिसने हमेशा एक राजकुमार के सपने देखे हैं और फिर यह होता है कि कायनात उसके सपने को सच कर देती है।

कृषा, जिसका रोल अंजलि तत्रारी निभा रही हैं, एक साधारण लड़की है, जिसके पास बहुत सीमित साधन हैं। वो अंबिकापुर के आकर्षक नजारों के बीच स्थित एक भव्य महल में आती है। उसे उम्मीद है कि वो अपनी जिंदगी के प्यार देवराज के साथ अपनी परियों वाली कहानी की शुरुआत करेगी, जो उस राजघराने के वारिस हैं। इस शो में टेलीविजन के दिलकश अभिनेता अविनेश रेखी शाही अंदाज के साथ प्रिंस देवराज का रोल निभाएंगे। देवराज की शिष्टता और व्यवहार दर्शाता है कि वो एक व्यक्ति के रूप में कितने उत्तम दर्जे के और परिपक्व इंसान हैं।

जहां अविनेश हमेशा हर तरह के वजन और शेप में आकर्षक लगे हैं, वहीं उन्हें यंग चार्मिंग प्रिंस की भूमिका में नजर आने के लिए कड़ी मेहनत करनी पड़ी। असल में उन्होंने इस शो के लिए बहुत कम समय में ही 13 किलो वजन घटा लिया और हमें कहना होगा कि अब वो बिल्कुल प्रिंस देवराज की तरह डैशिंग नजर आने लगे हैं! अपनी वेट लॉस जर्नी के बारे में बताते हुए इस एक्टर ने बताया कि किस बात ने उनके लिए सबसे बड़ी प्रेरणा का काम किया।

अविनेश रेखी बताते हैं, ‘‘वजन घटाना मेरे सहित बहुत-से लोगों के लिए किसी बुरे ख्वाब की तरह है, क्योंकि यह बड़ा मुश्किल काम है। मैं अपनी सारी जिंदगी फिटनेस प्रेमी रहा हूं, लेकिन इस बार यह मेरे लिए बड़ा मुश्किल था। जहां मैंने कम समय में ही 13 किलो वजन घटा लिया था, वहीं मैं बड़ा हैरान भी था, क्योंकि इससे पहले मैंने कभी इतनी जल्दी वजन नहीं घटाया था। लेकिन मेरा मानना है कि यदि एक कड़े डाइट और सही वकआउट शेड्यूल के साथ आपमें लगन, सटीक अनुमान और हौसला हो तो आपको अपेक्षित नतीजे मिलते हैं। अपनी डाइट में मैं दिन में एक बार ही खाना खाता था। चूंकि दिन में केवल एक बार खाना अनहेल्दी माना जाता है, तो मैं लोगों को इसकी सलाह नहीं दूंगा। मुझे पोषण आहार के बारे में काफी कुछ पता है, इसलिए मैं यह सुनिश्चित कर पाता था कि मैं पोषक तत्वों से वंचित ना रहूं। अपने वर्कआउट की बात करूं, तो मैं सिर्फ फंक्शनल ट्रेनिंग करता था। मैं किसी वेट ट्रेनिंग के लिए जिम नहीं गया। मैंने आवश्यक बैंड्स, कंडिशनल वर्कआउट्स, पुश-अप्स और पुल-अप्स के साथ सिर्फ फंक्शनल ट्रेनिंग की। मैं कहना चाहूंगा कि यह सारी प्रक्रिया बहुत मुश्किल थी, लेकिन मेरी सबसे बड़ी प्रेरणा थी ‘तेरे बिना जिया जाए ना‘। जब मुझे यह शो ऑफर किया गया तो वे ज्यादातर सीक्वेंस के लिए मुझे खुले बदन शूट करना चाहते थे। इसलिए शेप में बने रहने के लिए यह मेरा सबसे बड़ा मोटिवेशन बन गया। इस शो के लिए मेरा परिवर्तन वाकई चैलेंजिंग था, लेकिन मैं इससे काफी संतुष्ट हूं और अब मैं खुद को पर्दे पर देखने के लिए उत्साहित हूं। मुझे यकीन है कि यह मेरे सभी फैंस के लिए भी एक ट्रीट होगी।‘‘

जहां अविनेश देवराज के किरदार में आने के लिए हर तरकीब आजमा रहे हैं, जो कृषा के लिए सपनों का राजकुमार है, वहीं कहानी में आगे वो कृषा के प्यार और अपने शाही परिवार एवं उसकी विरासत के प्रति अपने कर्तव्यों के बीच उलझ जाएगा। क्या कृषा के लिए आगे खुशहाली आएगी? या फिर उसे खुद आगे बढ़कर इसे पाना होगा?

‘तेरे बिना जिया जाए ना’ के बारे में ज्यादा जानने के लिए बने रहिए इसी जगह पर।