स्टार भारत के शो ‘ना उम्र की सीमा हो’ में मुख्य किरदार निभा रही रचना मिस्त्री अपनी आवाज़ को रानी मुखर्जी की आवाज़ के साथ तुलना करने को लेकर की खुलकर बात।

0
204
Rachna Mistry, who plays the lead character in Star Bharat's show Naa Aayega Ki Seema Ho, opens up about comparing her voice with that of Rani Mukerji. ,
Rachna Mistry, who plays the lead character in Star Bharat's show Naa Aayega Ki Seema Ho, opens up about comparing her voice with that of Rani Mukerji. ,

जब से नया शो ‘ना उम्र की सीमा हो’ टीवी पर प्रसारित हुआ है, दर्शकों ने रचना मिस्त्री और इकबाल खान की जोड़ी को क्रमशः विधि और देव के रूप में बहुत पसंद किया है। इनकी केमिस्ट्री दर्शकों को खूब भा रही है। रचना मिस्त्री को उनके फैन्स द्वारा उनके इस नए अवतार में सराहा जा रहा है क्योंकि विधि अपने किरदार के बारे में बात करते हुए कहती हैं कि लोग उनकी आवाज की तुलना अभिनेत्री रानी मुखर्जी से कर रहे हैं, जानिए।

अभिनेत्री रचना मिस्त्री कहती हैं, ‘यह मेरी अब तक की सबसे अच्छी तारीफ में से एक है जो मुझे बहुत पसंद है। साथ ही रानी मुखर्जी मेरे पिता की पसंदीदा अभिनेत्री हुआ करती थीं। इसलिए जब भी वह पर्दे पर दिखाई देती थीं तो मेरे पिता उनकी तारीफ करते थे और कहते थे कि वह सबसे अलग हैं, उनकी आवाज के साथ वह भी वह सबसे अलग हैं।”

वह आगे कहती हैं, ‘जब से मेरी आवाज बदलने लगी थी तब से लोग मेरी तारीफ किया करते थे कि मेरी आवाज़ रानी मुखर्जी से मिलती-जुलती हूं और यह तारीफ सुनकर मैं सातवें आसमान में रहने लगी थी। मैं खुद रानी मुखर्जी को बहुत पसंद करती हूं। उनका काम और उनकी फिल्में हमेशा मेरे और मेरे पिता के लिए आकर्षक रही हैं, इसलिए उनकी तुलना उनकी आवाज के मामले में भी की जा रही है, यह मेरे लिए सबसे बड़ी तारीफ है, जिसे मैं हमेशा संजो कर रखूंगी”

शो ‘ना उम्र की सीमा हो’ को दर्शकों का प्यार लगातार मिल रहा है। कहानी देव और विधि के इर्द-गिर्द घूमती है, जो अपनी उम्र के अंतर के बावजूद एक-दूसरे के प्यार में पड़ जाते हैं। कहानी कैसे टर्न लेती है और देव और रचना के बीच की केमिस्ट्री कैसे आगे बढ़ती है यह देखना दिलचस्प होगा।