कोरोना काल में भूमि पेडनेकर की ऐसी हैं टिप्स

bhumi pednekar

मुंबई।  भूमि पेडनेकर ने दम लगाके हईशा के बाद अपने शारिरिक बदलाव से सबको चौंका दिया था, ऐसे में भूमि पेडनेकर की फिटनेस ऐसी चीज है, जिसके बारे में नियमित रूप से चर्चा की जाती है। वह नियमित रुप से जिम जाना पसंद करतीं हैं साथ ही वह जो भी खाती हैं, उसके प्रति बेहद सतर्क हैं। कोरोनावायरस के कारण भारत में लगाए गए लॉकडाउन के परिणामस्वरूप सभी के समक्ष स्वास्थ्य और फिटनेस की चुनौतियां उत्पन्न हो रही हैं और भूमि के पास इसका समाधान है।

भूमि कहतीं हैं, मैंने हमेशा एक संतुलित जीवन शैली अपनाने का प्रयास किया है और मुझे विश्वास है कि पोषण जो हम खाते हैं उसका सीधा प्रभाव हमारे स्वास्थ्य और फिटनेस पर पड़ता है।। यद्यपि, यह लॉकडाउन हम सभी के लिए बेहद चुनौतीपूर्ण है, क्योंकि इसने हमारे जीवन के साथ ही हम कैसे रहते हैं, इसे पूरी तरह से बदल दिया है। इतना ही नहीं, यह हमारे दिमाग पर भी असर डाल रहा है और यह हमें बड़े पैमाने पर आहार और पोषण से भी दूर कर सकता है।

भूमि ने खुलासा किया, हम जो खाते हैं, वह इस बात पर काफी निर्भर करता है कि हम कैसा महसूस करते हैं, यह जुड़ा हुआ है और यह ज्यादातर भावनात्मक है। यह स्वास्थ्य और फिटनेस संबंधी समस्याएं उत्पन्न करेगा औऱ ऐसे में मैं कोविड-19 के जरिए अपनी पोषण यात्रा को सभी के साथ साझा करना चाहती हूं, और मुझे उम्मीद है कि लोगों के लिए यह काफी उपयोगी साबित होगा।

इस अभिनेत्री ने एक दिनचर्या का निर्धारण किया है और कोरोनावायरस महामारी के दौरान जीवन के सभी पोषक तत्वों के साथ जुड़ी हुई हैं। वह अपनी फिट बॉडी का श्रेय अपने न्यूट्रिशनिस्ट डॉ. सिद्धांत को देती हैं और सभी लोगों के साथ स्वास्थ्य औऱ पोषण का टिप्स साझा करने के लिए उनके साथ लाइव चैट करेंगी।

वे कहतीं हैं, मैंने खुद को गतिशील रखना सुनिश्चित किया है, मैं कसरत कर रही हैं, मैं पोषण से भरपूर आहार ले रही हूं और मैंने अत्यधिक भोजन और जंक फूड का सहारा नहीं लिया है। मेरे न्यूट्रिशनिस्ट डॉ. सिद्धांत प्रतिभाशाली हैं और उनके पास ज्ञान का भंडार है, जिसने मुझे अपने जीवन को आकार देने में मदद की है। मैं चाहती हूं कि वे अपने ज्ञान को अधिक से अधिक लोगों के साथ साझा करें, क्योंकि लॉकडाउन की चुनौतियों के बावजूद उन्होंने मेरी गतिशिलता जारी रखी है।