Box Office: शाहिद कपूर की कबीर सिंह ने लाया तूफ़ान, पहले दिन की कमाई जानकर हैरान हो जाएंगे

kabir singh

मुंबई। दो साल पहले आई विजय देवराकोंडा स्टारर तेलुगु फिल्म अर्जुन रेड्डी की हिंदी रीमेक कबीर सिंह ने पहले दिन बॉक्स ऑफिस पर कमाई का तूफ़ान ला दिया है।   

संदीप वंगा रेड्डी के निर्देशन में बनी शाहिद कपूर और कियारा आडवाणी स्टारर फिल्म कबीर सिंह ने घरेलू बॉक्स ऑफिस पर अपनी रिलीज़ के पहले दिन 20 करोड़ 21 लाख रूपये का शानदार कलेक्शन किया है।  ये शाहिद कपूर के करियर की सबसे बड़ी ओपनिंग है।  

करीब 30 करोड़ रूपये में बनी और सेंसर से ए सर्टिफिकेट में पास की गई इस फिल्म को भारत में 3123 और ओवरसीज में 493 स्क्रीन्स में रिलीज़ किया गया है।  कबीर सिंह इस साल रिलीज़ हुई फिल्मों की पहले दिन की कमाई के मामले में चौथे स्थान पर है।  भारत को पहले दिन 42 करोड़ 30 लाख रूपये, कलंक को 21 करोड़ 60 लाख और केसरी को 21 करोड़ 6 लाख रूपये की ओपनिंग मिली थी। 

इससे पहले शाहिद कपूर की फिल्मों की ऐसी ओपनिंग रही –

पद्मावत 19 करोड़ रूपये 

शानदार  13.1 cr

आर  राजकुमार  10.2 cr

उड़ता पंजाब  10.05 cr

बत्ती गुल मीटर चालू  6.5 cr

हैदर  6.14 cr

फटा पोस्टर निकला हीरो . 6 cr

तेरी  मेरी कहानी  5.25 cr

रंगून  5.05 cr


बॉलीवुड में ए सर्टिफिकेट पाने वाली फिल्मों में कबीर सिंह की ओपनिंग दूसरे स्थान पर है।  सत्यमेव जयते  20.52 करोड़ के साथ पहले स्थान पर है। ग्रैंड मस्ती 12.50 करोड़ के साथ तीसरे , वीरे दी वेडिंग  10.70  करोड़ के साथ चौथे और शूटआउट  एट वडाला  10.10 करोड़ के साथ पांचवे स्थान पर है। 

फिल्म की कहानी अपनी कॉलेज लाइफ की महबूबा प्रीति से एकदम अपारंपरिक ढंग से प्यार करने वाले कबीर सिंह (शाहिद कपूर) की है जो कभी भी अपनी प्रेमिका प्रीति (कियारा आडवाणी) से यह नहीं पूछता कि वह उससे प्यार करती है या नहीं। बस वह पहली नजर से उससे प्यार करने लगता है और प्रीति को भी उससे कब प्यार हो जाता है उसे खुद पता नहीं चलता।

लेकिन चीजें तब बिगड़ जाती हैं जब प्रीति के पिताजी शादी के लिए मना कर देते हैं और उसकी शादी किसी और से कर देते हैं। यहीं से शुरू होता है कबीर सिंह का वह सफर जिसमें वह अपने आप को तबाह करना शुरू करता है।  नशे में खोया कबीर एक बेहतरीन सर्जन है। इस काम में कभी उसे असफलता नहीं मिली। मगर एक घटना के बाद कबीर से वह काम भी छूट जाता है और उसके बाद उसकी जिंदगी में क्या-क्या होता है इसी ताने-बाने पर बुनी गई है ‘कबीर सिंह’।